युवा जल संरक्षण समिति ने अभियान चलाकर लोगों को जल के महत्व के लिए किया जागरूक
November 17, 2019 • योगेश गौड़

गत डेढ़ वर्षो से जल के महत्व के प्रति घर-घर जाकर लोगों को जागरूक कर रही है संस्था 
मोदीनगर (योगेश गौड़)। युवा जल संरक्षण समिति के सदस्यों ने रविवार को स्थानीय डिफेंस कॉलोनी में घर घर जाकर लोगों को जल संरक्षण और इसके महत्व के प्रति जागरूक करते हुए जल का दुरुपयोग न करने के लिए अपील की। संस्था के सदस्य आलोक रावत ने जानकारी देते हुए बताया कि उनकी संस्था गत डेढ़ वर्षो से लोगों को घर-घर जाकर लगातार घट रहे जल  स्तर और भविष्य में इससे आने वाले खतरे के प्रति आगाह करने का कार्य कर रही है। आलोक रावत ने बताया कि उनकी संस्था घर घर जाकर लोगों से अपील करती है कि जल की बर्बादी ना करें, उन्होंने कहा कि वह लोगों से अपील करते हैं कि नहाने के लिए सबमर्सिबल और नल का पानी बर्बाद न करके बाल्टी और मग्गे का  प्रयोग करें, तथा गाड़ी आदि धोने के लिए भी बाल्टी और  मग्गे का प्रयोग करने के साथ-साथ सबमर्सिबल और नल के चलते हुए पानी से सड़क वह घर आदि धोने से बचें, इतना ही नहीं आरओ से निकलने वाले  अतिरिक्त जल को किसी बाल्टी आदि में संरक्षित कर उसे घर में  पोछा वह फर्श धोने के लिए इस्तेमाल करें, इससे स्वच्छ पानी का सही उपयोग हो सकेगा। आलोक रावत ने बताया कि यदि हम जल संरक्षण के प्रति जागरूक नहीं हुए तो जिस तरह से लगातार  धरती में जल का स्तर घटता जा रहा है, उससे आने वाले 10 सालों में लोगों को पीने का पानी बहुत मुश्किल से मिल पाएगा। उन्होंने कहा कि हम अज्ञानता और जागरूकता की कमी के चलते टंकियों के ओवरफ्लो से बर्बाद होने वाले, नल से बूंद बूंद का टपकते हुए जल  को नजरअंदाज करने के अलावा अपने जानवरों को नहलाने में करीब 90  प्रतिशत जल का दुरुपयोग कर रहे हैं। जिसके आने वाले समय में घातक परिणाम देखने को मिल सकते हैं। इसीलिए आज इसकी आवश्यकता है कि लोगों में जल संरक्षण के प्रति जागरूकता लाकर उन्हें इसके दुरुपयोग से रोका जाए। रविवार को निवाड़ी रोड स्थित डिफेंस कॉलोनी में युवा जल संरक्षण समिति द्वारा चलाए गए जल संरक्षण जागरूकता कार्यक्रम में संस्था के दिनेश रावत, धर्मेंद्र रावत, राहुल शर्मा, व मनोहर शर्मा आदि दर्जनों सदस्य शामिल रहे।