वार्षिक बैठक में बीडीसी आशीष चौधरी ने ज्वलंत समस्याओं पर दिए अपने सुझाव
October 24, 2019 • अनवर ख़ान

मोदीनगर (अनवर ख़ान)। ब्लाक भोजपुर कार्यालय में आयोजित क्षेत्र पंचायत सदस्यों की वार्षिक बैठक के दौरान बीडीसी सदस्यों द्वारा ब्लाक प्रमुख के समक्ष अनेक समस्याएं उठाई गई तथा सुझाव आदि भी दिए गए। बैठक में बीडीसी मेंबरों के अलावा अनेक गांव के किसान तथा ग्राम पंचायत सचिवों ने हिस्सा लिया।
       गुरुवार को खंड विकास कार्यालय भोजपुर पर ब्लाक प्रमुख कृष्णवीर सिंह की अध्यक्षता में क्षेत्र पंचायत सदस्यों के साथ एक वार्षिक बैठक का आयोजन किया गया था। बैठक में ग्राम लतीफपुर तिबड़ा स्थित वार्ड सं 47 के क्षेत्र पंचायत सदस्य आशीष चौधरी ने ग्रामीण आवास योजना से संबंधित समस्या से अवगत कराते हुए कहा कि ग्रामीण आवास योजना का लाभ पाने के लिए सरकार द्वारा कुछ मानक निर्धारित किए गए हैं। जिसके तहत जिन निर्धनों के मकान कच्चे यानी दीवारें और छत मिट्टी की बनी होंगी वही परिवार ग्रामीण आवास योजना का पात्र माना जाएगा। आशीष चौधरी ने कहा कि इसी मानक के चलते भोजपुर ब्लॉक के किसी भी निर्धन ग्रामीण को ग्रामीण आवास योजना का लाभ नहीं मिल सका है। उन्होंने सुझाव दिया कि सरकार को अपने मानकों में संशोधन करके उस ग्रामीण को ग्रामीण आवास योजना का पात्र माना जाना चाहिए। जिसके घर की दीवारे तो चाहे ईटों की हो किंतु छत कच्ची यानी मिट्टी की बनी हुई हो। आशीष चौधरी ने वृद्धावस्था पेंशन योजना पर भी सवालिया निशान लगाते हुए कहा कि अधिकांश वृद्धजन इतने कृशकाय हैं कि वह चल फिर भी नहीं सकते, जिसके चलते वे वृद्धावस्था पेंशन योजना की सभी प्रक्रिया को पूरी नहीं कर सकते, लिहाजा पात्र होने के बावजूद वे इस योजना का लाभ नहीं ले पा रहे हैं। उन्होंने कहा कि उनके वार्ड में ही ऐसे 34 वृद्धजनों को उन्होंने चिन्हित किया है जो पात्र होने के बावजूद वृद्धावस्था पेंशन योजना का लाभ नहीं ले पा रहे हैं। आशीष चौधरी ने सुझाव दिया कि भोजपुर ब्लॉक में एक नोडल अधिकारी की नियुक्ति की जाए जो हर दिन दो वार्डो में जाकर वृद्धजनों से मिलकर उनकी तमाम प्रक्रिया को वहीं पूरी करे। इसके अलावा बीडीसी मेंबर महिमा ने भी पॉलिथीन बंद करने के अभियान की भांति शराब को भी बंद किए जाने का सुझाव दिया। मंच संचालन एडीओ पंचायत राजेंद्र प्रसाद शर्मा ने किया। 
       बैठक में बीडीसी मनीष कुमार, अमित, अंजु, प्रशांत, विजेंद्र, सत्येंद्र आदि के अलावा ग्राम प्रधान तिबड़ा सुचेता सिंह, संतोख प्रधान गदाना, प्रधान कविता फफराना, शाहिद मछरी, शाहिद प्रधान भोजपुर, प्रधान बिजेंद्र फजलगढ़ तथा ग्राम पंचायत सचिव विपिन, सचिव मोहम्मद जैनुल आदि मौजूद थे।