लायनैस क्लब द्वारा आयोजित जांच शिविर में दर्जनों व्यक्तियों ने कराई मधुमेह व कोलेस्ट्रॉल की जांच
November 16, 2019 • अनवर ख़ान

मोदीनगर (अनवर ख़ान)। मधुमेह के रोगियों की संख्या दिन पर दिन बढ़ती ही जा रही है। ऐसा कोई घर परिवार नहीं जिसमें मधुमेह का कोई रोगी नहीं है। मधुमेह की यह बीमारी अधिकांशतः असंतुलित खानपान, असंयमित दिनचर्या तथा शारीरिक मेहनत न करने के कारण होती है। यह बीमारी अनुवांशिकता के कारण भी होती है। इस बीमारी को कंट्रोल करना बहुत मुश्किल नहीं है।
        उक्त विचार स्थानीय ग्रीनलैंड एकेडमी में लायनेस क्लब मोदीनगर टाउनशिप द्वारा डॉ लाल पैथलैब्स के सहयोग से आयोजित मधुमेह व कॉलेस्ट्रोल जांच शिविर के दौरान लायनैस क्लब मोदीनगर टाउनशिप की मल्टीपल सेक्रेटरी स्कूल की उपप्रधानाचार्या मंजीत चौधरी द्वारा अपने संबोधन में व्यक्त किए गए। उन्होंने कहा कि मधुमेह का रोगी अपने खान-पान में थोड़ा सा बदलाव करके तथा संयमित जीवनशैली के अलावा अपनी दिनचर्या में यदि व्यायाम को शामिल कर ले तो मधुमेह पर कंट्रोल कर सकता है। इसी प्रकार बढ़ी हुई कोलेस्ट्रॉल भी शारीरिक मेहनत तथा उचित खानपान से कम की जा सकती है। क्लब की अध्यक्षा लायनैस वर्षा गुप्ता ने कहा कि अपने सामाजिक कार्य के लिए प्रसिद्ध लॉयंस क्लब ने वन डे वन एक्टिविटी का अभियान चलाया हुआ है। इसी अभियान के तहत अंतरराष्ट्रीय मधुमेह दिवस के अवसर पर लायंस क्लब के डिस्ट्रिक्ट गवर्नर लॉयन संजीवा अग्रवाल व डीसीपी लायनेस राखी गर्ग निर्देश पर मधुमेह व कॉलेस्ट्रोल जांच शिविर आयोजित किया गया है। उन्होंने कहा कि शिविर के दौरान मधुमेह की जांच के अलावा मधुमेह से बचाव की जानकारी भी प्रदान की जा रही है। उन्होंने कहा कि लायनेस क्लब मोदीनगर टाउनशिप इस प्रकार के जागरूकता कार्यक्रम भविष्य में भी चलाता रहेगा
       शिविर को सफल बनाने में लायनैस भावना तोमर तथा लायनैस पूनम कुमार का सराहनीय योगदान रहा।