भारतीय किसान यूनियन ने 12 मांगों को लेकर तहसील दिवस में दिया ज्ञापन 
December 17, 2019 • योगेश गौड़

सभी  मांगो का निस्तारण एक सप्ताह में नहीं किया गया तो किसान यूनियन हाईवे पर देगी धरना 
मोदीनगर (योगेश गौड़)।  तहसील मुख्यालय पर मंगलवार को आयोजित संपूर्ण समाधान दिवस में भारतीय किसान यूनियन ने उपजिलाधिकारी सौम्या पांडे को एक ज्ञापन सौंपकर 12 मांगों का निस्तारण जल्द से जल्द किए जाने तथा एक सप्ताह के भीतर मांगे पूरी न होने पर हाईवे पर धरना देने का अल्टीमेटम दिया है।
 उप जिलाधिकारी सौम्या पांडे को सौपे गए 12 सूत्रीय मांग पत्र में वर्ष 2018-19 का गन्ना भुगतान ब्याज सहित दिलवाने, किसानों की फसल को बर्बाद कर रहे आवारा पशुओं से निजात दिलाने, बारिश व ओलावृष्टि से किसानों की बर्बाद हुई फसल का मुआवजा दिलवाने, ब्लाक भोजपुर अंतर्गत आने वाले फजलगढ़ के गंदे नाले की सफाई व एक्सप्रेस वे के बराबर में नाले पर पुल व सर्विस रोड का निर्माण कराए जाने, मोदी शुगर मिल स्टील यार्ड में खाद गोदाम को तुरंत हटवाए जाने, सिखैडा रोड औधोगिक क्षेत्र से बेगमाबाद तक जाने वाले नाले की सफाई एवं इसे पक्का बनवाए जाने, नगर पंचायत निवाड़ी में करीब एक दर्जन घरों में बिजली कनेक्शन होने के बावजूद ठप पड़ी बिजली आपूर्ति सुचारू कराए जाने के अलावा मोदीनगर शहर में बिछाई जा रही सीवर लाइन के चलते नगर की गलियों में खुदाई से हो रही आम नागरिकों को परेशानी से निजात दिलाने की मांग करने के साथ-साथ किसानों ने ज्ञापन में कहा है कि किसान जब ट्रांसफार्मर खरीदता है तो उससे पूरा भुगतान जमा करा लिया जाता है जबकि अन्य किसान को भी उसी ट्रांसफार्मर से विद्युत विभाग द्वारा कनेक्शन दे दिया जाता है, किसानों की मांग है कि यदि उनके द्वारा खरीदे गए ट्रांसफार्मर से किसी अन्य किसान को विद्युत आपूर्ति की जाती है तो उस ट्रांसफार्मर का आधा पैसा पहले वाले किसान को लौटाया जाए,किसानों ने ज्ञापन में बताया है कि किसानों द्वारा कर्जा जमा करने के बावजूद भी उनकी फर्द पर कर्ज दर्शाया जा रहा है जिसे बैंक द्वारा दुरुस्त कराया जाए। किसानों ने मांग की है कि जब तक उनके गन्ने का पूरा भुगतान नहीं हो जाता तब तक किसी भी प्रकार की रिकवरी जारी नहीं की जाए। भारतीय किसान यूनियन ने ज्ञापन के माध्यम से प्रशासन व शासन को चेतावनी दी है कि यदि उनकी सभी मांगों को एक सप्ताह के भीतर पूरा नहीं किया गया तो भारतीय किसान यूनियन हाईवे पर धरना देने के लिए मजबूर होगी, जिसकी समस्त जिम्मेदारी शासन व प्रशासन की होगी। ज्ञापन सौंपने वाले किसानों में रामोतार त्यागी, श्यामवीर सिंह, जय कुमार मलिक, वेदपाल मुखिया, विनय नंगला, रमेश गदाना, चंद्रपाल, संदीप जीनवाल, सतेंद्र त्यागी, आनंद त्यागी, सोनू त्यागी, पप्पी नेहरा, विजेंद्र सिंह, हरपाल सिंह, रजनीश त्यागी, मंगल सिंह  आदि रहे।