अयोध्या मामले पर फैसले के मद्देनजर एसडीएम, सीओ तथा थाना प्रभारियों ने लगातार गश्त कर संभाली सुरक्षा व्यवस्था की कमान
November 9, 2019 • अनवर ख़ान

चप्पे-चप्पे पर रहा पुलिस बल तैनात

मोदीनगर (अनवर ख़ान)। अयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट द्वारा दिए गए फैसले के मद्देनजर पुलिस प्रशासन द्वारा शांति स्थापित किए जाने के लिए की गई कवायद का सकारात्मक असर रहा। पुलिस प्रशासन द्वारा की गई सुरक्षा व्यवस्थाओं के कारण के क्षेत्र में शांति व्यवस्था तथा सौहार्द का माहौल रहा। उप जिलाधिकारी सौम्या पांडे, सीओ केपी मिश्रा ने शनिवार को पूरे दलबल के साथ नगर क्षेत्र के अलावा संवेदनशील गांवों में भ्रमण कर स्थिति पर पैनी नजर बनाए रखी। इसके अलावा मोदीनगर, भोजपुर तथा निवाड़ी के थाना प्रभारी निरीक्षक भी लगातार गश्त करते नज़र आए।
        बता दें कि सभी सुनवाई पूरी होने के बाद सुप्रीम कोर्ट द्वारा अयोध्या मामले में फैसला सुनाया जाना बाकी था। फैसले पर किसी भी तरह का कोई विवाद पैदा ना हो इसके लिए पुलिस प्रशासन द्वारा अपने आला अधिकारियों के निर्देश पर फैसला आने से कई दिन पूर्व ही अपनी कवायद शुरू कर दी गई थी। जिसके चलते जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय, एसएसपी सुधीर कुमार सिंह, एसपी देहात नीरज जादौन, उप जिलाधिकारी सौम्या पांडे, सीओ केपी मिश्रा द्वारा सभी धर्मों के लोगों के साथ सद्भावना बैठक कर उन्हें सुप्रीम कोर्ट के इस अति महत्वपूर्ण फैसले का सम्मान तथा स्वागत करने की अपील की गई थी। साथ ही पुलिस द्वारा क्षेत्रवासियों के साथ लगातार बैठक कर इस फैसले के खिलाफ किसी भी तरह की प्रतिक्रिया व्यक्त करने तथा सोशल मीडिया पर भड़काऊ एवं वैमनस्यता फैलाती हुई पोस्ट लिखने या शेयर करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही किए जाने की चेतावनी भी दी गई थी। पुलिस द्वारा की गई सुरक्षा व्यवस्था की प्रक्रिया में मोदीनगर थानाध्यक्ष जितेंद्र यादव, भोजपुर थानाध्यक्ष राजीव कुमार तथा निवाड़ी थानाध्यक्ष धर्मेंद्र कुमार ने मिश्रित आबादी वाले इलाकों में पिकेट बना कर उप निरीक्षक समेत पुलिस कर्मियों की तैनाती कर दी गई थी। इसके अलावा एसडीएम तथा सीओ पूरे दलबल के साथ क्षेत्र में भ्रमण के दौरान शांति व्यवस्था को सुदृढ़ करते नजर आए। पुलिस प्रशासन द्वारा की गई इस कवायद का नतीजा यह रहा कि शनिवार को सुप्रीम कोर्ट द्वारा दिए गए इस ऐतिहासिक फैसले को स्वीकार करते हुए क्षेत्रवासियों ने फैसले का दिल खोल कर स्वागत किया।

शांतिपूर्ण वातावरण रहने पर पुलिस प्रशासन ने ली राहत की सांस

फैसला आने से पूर्व पुलिस प्रशासन द्वारा सुरक्षा तथा शांति व्यवस्था कायम कराने के लिए की गई कवायद का असर रहा कि नगरक्षेत्र के अलावा मोदीनगर, भोजपुर तथा निवाड़ी थाना क्षेत्रों के अंतर्गत आने वाले किसी भी गांव में किसी भी प्रकार की अशांति या अप्रिय घटना की सूचना आने आने पर शनिवार शाम को पुलिस प्रशासन के तमाम अधिकारियों तथा पुलिसकर्मियों ने राहत की सांस ली। ‌ ग़ौरतलब है कि सुरक्षा व्यवस्था के मद्देनजर कई गांवों को संवेदनशील इलाकों मैं शामिल किया गया था। जहां पर पुलिस प्रशासन द्वारा अतिरिक्त फोर्स का इंतजाम किया गया था। पुलिस के मुताबिक शनिवार को इन क्षेत्रों में भी पूर्णतया शांति और सद्भाव का वातावरण व्याप्त रहा।