500 के नोटों से तत्काल हटाया जाए तिरंगा: ईश्वरचंद
January 24, 2020 • योगेश गौड़

जन सेवा समिति ने राष्ट्रपति को भेजा मांग पत्र

मोदीनगर (योगेश गौड़)। जनसेवा समिति के राष्ट्रीतय अध्यक्ष ईश्वर चंद ने राष्ट्रपति के नाम एक मांग पत्र भेजकर 500 के नोट से तिरंगे का चित्र हटाए जाने की मांग की है साथ ही 500 के नोट पर तिरंगे का चित्र प्रिंट करने का प्रस्ताव पास करने वाली कमेटी के सदस्यों पर मुकदमा दर्ज करने की भी अपील की है।
          सीकरी कला स्थित एक होटल में आयोजित एक प्रेस वार्ता मे जन सेवा समिति के संस्थापक ईश्वर चंद्र ने पत्रकारो को बताया कि राष्ट्रीय ध्वज का सम्मान करने हेतु संविधान द्वारा बनाए गए नेशनल फ्लैग कोड 2002 सेक्शन 5 के अनुसार राष्ट्रीय ध्वज को तस्वीर, पेंटिंग, ड्राइंग, फोटोग्राफ पर स्पष्ट रूप से छापना या लेनदेन में प्रयोग करना वर्जित है। लेकिन आरबीआई के तत्कालीन गवर्नर उर्जित पटेल तथा गठित की गई  कमेटी द्वारा  करेंसी 500 के नोट पर राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा छापा है, जोकि नेशनल फ्लैग कोड का खुला उल्लंघन है। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय ध्वज छपा हुआ यह नोट लेनदेन में खुलेआम प्रयोग हो रहा है। साथ ही अधिकांश व्यक्ति इस नोट को उल्टा सीधा पर्स में रख अपनी पेंट की पिछली जेब में रखते हैं। जबकि इंडियन फ्लैग कोड के अनुसार राष्ट्रीय ध्वज व्यक्ति की छाती से नीचे नहीं जाना चाहिए। ईश्वर चंद्र ने बताया कि पत्र मे उन्होंने नई करेंसी के 500 के नोट पर छपे हुए राष्ट्रीय ध्वज को हटाए जाने तथा राष्ट्रीय ध्वज का अपमान करने वाले आरबीआई गवर्नर उर्जित पटेल तथा गठित समिति के खिलाफ एफआईआर दर्ज करा कर उन पर कानूनी कार्यवाही किए जाने की मांग की है।
        प्रेस वार्ता के दौरान प्रदीप कुमार, अनिल कुमार, रमेश कुमार शर्मा, नीशू चौधरी, टोनी शर्मा आदि पदाधिकारीगण मौजूद थे।