सरकार की जन विरोधी नीतियों के ख़िलाफ़ लखनऊ में आंदोलन करेगी आप पार्टी
September 25, 2019 • अनवर ख़ान

मोदीनगर (अनवर ख़ान)। आम आदमी पार्टी ने प्रदेश में विधिवत दस्तक दे दी है। जिसके लिए पार्टी के शीर्ष नेतृत्व ने सबसे पहले प्रदेश अध्यक्ष तथा प्रदेश सचिव को मनोनीत करते हुए उन्हें शीघ्र ही प्रदेश कार्यकारिणी गठित किए जाने के निर्देश दिए हैं। उन्हीं निर्देशों के अनुपालन में प्रदेश की कार्यकारिणी गठित करने की कवायद शुरू कर दी गई है। 
       उक्त बातें आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सभाजीत सिंह ने राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य नवाब सोनी के आवास पर आयोजित एक प्रेस वार्ता के दौरान पत्रकारों के समक्ष कहीं। उन्होंने बताया कि आम आदमी पार्टी प्रदेश में गत 15 सितंबर से सदस्यता अभियान चलाकर आमजन को अपने साथ जोड़ने का कार्य कर रही है। यह सदस्यता अभियान 15 अक्टूबर तक चलाया जाएगा और फिलहाल हर विधानसभा में 5000 सदस्य बनाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। उन्होंने बताया कि आम आदमी पार्टी वर्ष 2020 में होने वाले सभी पंचायत चुनावों में अपने प्रत्याशी उतारेगी। और इन चुनाव में जीत हासिल करने के लिए सदस्यता अभियान के साथ साथ हर जिले में आयोजित कार्यकर्ता संवाद के ज़रिए क्षेत्रवासियों की समस्याओं की जानकारी की जा रही है। प्रदेश अध्यक्ष ने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि अपराध मुक्त माहौल देने का दावा कर सत्ता में आई भाजपा सरकार में अपराध चरम पर हैं। महिलाएं बच्चियां सुरक्षित नहीं हैं। प्रदेशवासी दहशत के साए में जी रहे हैं। भाई साल के भीतर विद्युत मूल्यों में की गई बेतहाशा वृद्धि से प्रदेश का आमजन बेहाल है। किसान भुखमरी की कगार पर खड़ा है। व्यापार तथा उद्योग धंधे चौपट हो चुके हैं। प्रदेशवासियों की इन्हीं समस्याओं को लेकर आम आदमी पार्टी अक्टूबर के पहले हफ्ते में प्रदेश की राजधानी लखनऊ में एक बड़ा आंदोलन करेगी। आंदोलन को सफल बनाने के लिए पार्टी युद्ध स्तर पर कार्य करके आंदोलन की रूपरेखा बना रही है। प्रदेश अध्यक्ष सभाजीत सिंह ने दावा किया कि अगले छः माह के भीतर आम आदमी पार्टी प्रदेश में सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरेगी। राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य नवाब सोनी ने पत्रकारों से कहा कि जैसा की सर्वविदित है कि जो भी केंद्र या प्रदेश सरकार की अनीतियों के ख़िलाफ़ आवाज उठाता है, उसके विरुद्ध यह भाजपा सरकार बदले की कार्रवाई कर रही है। लेकिन आप पार्टी के नेता या कार्यकर्त्ता आमजन की आवाज़ उठाने के दौरान ऐसी किसी कार्रवाई से नहीं डरते। सरकार की मनमानियों के खिलाफ आवाज उठाने में चाहे मुक़दमा झेलना पड़े या चाहे जेल जाना पड़े, आम आदमी पार्टी के नेता और कार्यकर्ताओं का कदम पीछे नहीं हटेगा। 
        प्रेसवार्ता में प्रदेश सचिव दिनेश पटेल, विधानसभा संरक्षक पूर्व चेयरमैन प्रत्याशी हरेंद्र शर्मा, जिला कार्यकारिणी सदस्य रविंद्र धामा, विधानसभा अध्यक्ष सचिन तेवतिया मौजूद थे।