देश को एक नई दिशा देने के लिए युवाओं का राजनीति में आना ज़रूरी - कृष्णा रुहेला
August 23, 2019 • अनवर खान

मोदीनगर। आज के युवा भविष्य की आशा हैं। युवा किसी भी राष्ट्र के सबसे ऊर्जावान भाग में से एक होते हैं और इसलिए घर, परिवार, समाज के साथ ही राष्ट्र को भी युवाओं से बहुत उम्मीदे हैं। सही मार्गदर्शन से उत्पन्न सही मानसिकता और क्षमता के साथ युवा राष्ट्र के विकास में बहुत बड़ा योगदान कर सकते हैं।
          युवाओं के भविष्य निर्माण से संबंधित उक्त विचार समाजवादी पार्टी के नगर महासचिव तथा रुहेला राजपूत विकास समिति के नगर उपाध्यक्ष एवं अखिल भारतीय रुहेला क्षत्रिय महासभा के जिलाध्यक्ष पद पर आसीन कृष्णा रुहेला ने एक भेंटवार्ता के दौरान व्यक्त करते हुए कहा कि भारत के युवा प्रतिभा के धनी हैं जो देश को विभिन्न क्षेत्रों में गौरवशाली महसूस करने का अवसर प्रदान कर रहे हैं। सूचना प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में भारतीय युवाओं के योगदान के बारे में सभी को पता है। इसके अलावा आज भारत का युवा विज्ञान, गणित, वास्तुकला, इंजीनियरिंग और अन्य क्षेत्रों में अपनी प्रतिभा के झंडे गाड़ रहा है। साथ ही विभिन्न खेलों में जीते हुए पदकों की संख्या भारतीय युवा खिलाड़ियों की क्षमता को प्रर्दशित करने के लिए काफी है। कृष्णा रुहेला ने कहा कि भारत में युवा पीढ़ी उत्साहित और नई चीजें सीखने के लिए उत्सुक हैं। चाहे वो शिक्षा का क्षेत्र हो या फिर खेल का क्षेत्र हो। उन्होंने युवाओं को राजनीति में प्रवेश करने पर भी अपना पक्ष रखते हुए कहा कि नेतृत्व क्षमता के धनी युवाओं को शिक्षा के साथ साथ राजनीति में भी रुचि रखनी चाहिए और समय आने पर राजनीति में प्रवेश करके देश को एक नई दिशा देने अपना योगदान देना चाहिए। 
      वार्ता के अंत में कृष्णा रुहेला ने प्रख्यात कवि सोहन लाल द्विवेदी द्वारा रचित कविता की पंक्तियों लहरों से डर कर नौका पार नहीं होती, कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती से युवाओं को अपनी मंज़िल प्राप्त होने तक निरंतर प्रयास करते रहने का संदेश दिया।