अंतरराष्ट्रीय हिंदी सम्मेलन में व्याख्यान प्रस्तुत कर डॉ स्नेहलता गुप्ता ने किया क्षेत्र का नाम रौशन
September 14, 2019 • अनवर ख़ान

मोदीनगर (अनवर ख़ान)। हिंदी दिवस के मौके पर स्थानीय गिन्नी देवी मोदी महिला महाविद्यालय की हिंदी विभागाध्यक्ष डॉ स्नेहलता गुप्ता द्वारा कनॉट प्लेस नई दिल्ली स्थित एनडीएमसी सभागार में आयोजित हिंदी अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन के दौरान राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के जीवन चरित्र पर विस्तार से प्रकाश डाला।
      अपने संबोधन में डॉ स्नेहलता गुप्ता ने गांधी जी की मिशनरी पत्रकारिता विषय पर आधारित व्याख्यान देते हुए कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी एक कुशल राजनीतिज्ञ होने के साथ-साथ एक संवेदनशील पत्रकार भी थे। राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने देश को आजादी दिलाने में पत्रकारिता को माध्यम बनाया और पत्रकारिता को साध्य की बजाय साधन बनाकर देश की आजादी में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने दक्षिण अफ्रीका के प्रवास के दौरान इंडियन ओपिनियन नामक अखबार में संपादक के रूप में कार्य किया था। भारत में उन्होंने अपनी इसी पत्रकारिता के हुनर को कायम रखते हुए यंग इंडिया नवजीवन तथा हरिजन नामक समाचार पत्रों का संपादन भी किया था। सम्मेलन के दौरान डॉ स्नेह लता गुप्ता की शोध छात्रा रहे डॉ शोभा रतूड़ी ने भी गांधी जी और उनका नैतिक जीवन नामक विषय पर अपना एक व्याख्यान प्रस्तुत किया। गौरतलब है कि डॉ स्नेह लता गुप्ता तथा डॉ शोभा रतूड़ी ने गत वर्ष मॉरीशस में आयोजित विश्व हिंदी सम्मेलन में अपना व्याख्यान प्रस्तुत कर देश का नाम रोशन किया था।